जानिए कुछ बाते भीम ऐप के बारे में

नोटबंदी के बाद सभी लोग डिजिटल पेमेंट के मध्यम से अपने खर्चों की पेमेंट कर रहे है| तो अब केन्द्र सरकार ने भी देश को कैशलेस इकोनॉमी की दिशा की ओर ले जाने के लिए एक नया कदम उठाया है| केन्द्र सरकार में डिजिटल पेमेंट के नए ऐप भीम (भारत इंटरफेस फॉर मनी) की शुरुआत की है| अब इस ऐप की मदद से कैशलेस ट्रांजैक्शन को गांव-गांव तक पहुंचाने की कोशिश की जाएगी| नोटबंदी के बाद ई-वॉलेट कंपनियां जैसे पेटीएम, फ्रीचार्ज के करोबार में कई गुना इजाफा हुआ है, इस लिए अब सरकार अपना ई-वॉलेट ऐप शुरू किया है| आज हम आप को भीम ऐप(About BHIM App) के बारे में बताते है|


About BHIM App
About BHIM App

जानिए कुछ बाते भीम ऐप के बारे में(About BHIM App)

आइये जानते है कुछ बाते भीम ऐप के बारे में|
1. भीम ऐप केन्द्र सरकार की संस्था नैशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) द्वारा निर्मित और संचालित है| यह संस्था केन्द्रीय रिजर्व द्वारा रेगुलेटेड है| वहीं पेटीएम और ई-वॉलेट ऐप निजी कंपनी द्वारा संचालित किया जाता है|
2. इस ऐप पर पेमेंट करने पर ट्रांजैक्शन चार्ज नही लगता है| क्योंकि यह ऐप बैंक और सेलर के बीच सीधा ट्रांजैक्शन करता है|
3. भीम ऐप में यूजर एक से अधिक बैंक खातों को जोड़ सकता है और अपना कैशलेस ट्रांजैक्शन कर सकता हैं|


 

4. भीम ऐप आपके बैंक खाते से सीधे तौर पर जुड़ा रहता है बाकी ऐपस की तरह यह बैंक खाते से पैसे ट्रांसफर नहीं करता|
5. सब से बड़ी बात यह है कि भीम ऐप के जरिए पेमेंट करने के लिए इंटरनेट कनेक्शन की जरूरत नहीं पड़ती|

जानिए 2016 में भारतीय महिलाओं ने किया मुकाम हासिल क्या

देखा जाए तो भीम ऐप अन्य ऐपस के मुकाबले काफ़ी अच्छा है| भीम ऐप सरकार द्वारा संचालित किया जा रहा है इस आधार पर माना जा सकता है कि यह ग्रामीण इलाकों में इस ऐप पर विश्वसनियता अधिक रहने की उम्मीद है| यह जल्दी ही मौजूद ई-वॉलेट कंपनियां जैसे पेटीएम, फ्रीचार्ज और मोबीक्विक को कड़ी चुनौती देगा|

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *