You are here

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि पर चुनाव आयोग की लटकी तलवार,जानिए अब क्या होगा ?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत ६००० हजार रुपए सालाना किसानो के खाते में सीधे जमा करने वाली मोदी सरकार की सफल योजना अब कठिनाई में पड़ती दिखाई दे रही है

पहली क़िस्त किसानो के खातो में २००० हजार के रूप में मिल गयी हे वही पहली क़िस्त देश के कुछ राज्यों में राजनीती की भेंट चढ़ गयी है मध्यप्रदेश के अलावा कई कांग्रेस साशित राज्य में वह के किसानो को अभी तक इस योजना का लाभ नही मिला हे , इसकी जानकारी जब पत्रकारों ने इसका कारण मोदी सरकार के मंत्रियो से जानना चाहा तो उन्होंने साफ़ कह दिया की वहा की सरकार ने हमे वहां के किसानो की सूचि नहीं भेजी हे जिसके चलते वहा के किसानो को इस योजना का लाभ नही मिल पाया हे ,हम सूचि प्राप्त करने का प्रयास कर रहे है

लेकिन अब मुख्य समस्या सरकार के सामने ये आन पड़ी है की देश में आचार सहिंता लग गयी है इसके चलते अब दूसरी क़िस्त किसानो के खातो में केसे डाले , इसकी कांग्रेस ने चुनाव आयोग से सिकायत भी कर दी है की बीजेपी इसका राजनीती लाभ लेना चाहती है चुनाव में ,,अब सरकार ने चुनाव आयोग के समक्ष अपना पक्ष रखते हुए ये कहा है की ये योजना अब पास हो चुकी है जो देश में लागू हो चुकी हे तो इसका राजनीती से कोई लेना देना नहीं है

इससे देश के गरीब किसानो को लाभ मिलेगा उनका जीवन व्यापन टीक तरह हो सकेगा ,,लेकिन इस योजना पर अभी तक चुनाव आयोग ने अपना फेसला नही दिया है अब सरकार चुनाव आयोग के फेसले का इन्तजार कर रही है

Leave a Reply

Top
shares